एमपी के रीवा जिले (Rewa News Update) में सौर उर्जा का सबसे बड़ा प्लांट है। यहां से दिल्ली मेट्रो को भी बिजली की सप्लाई होती है। अब आगर, शाजापुर और नीमच (Solar Energy Plant In MP) में 1500 मेगावॉट क्षमता के प्लांट स्थापित किए जाने हैं। इसके लिए चयनित विकासकों को आजज लैटर ऑफ अवॉर्ड दिया गया है। इस मौके पर सीएम शिवराज सिंह चौहान ने युवा निवेशकों से मुलाकात की है।

मंत्री हरदीप सिंह डंग ने कहा कि आगर में 550 मेगावाट, शाजापुर में 450 मेगावॉट और नीमच में 500 मेगावॉट का प्लांट स्थापित किया जाना है। इन परियोजनाओं के लिए पिछले दिनों ने निविदा निकाली गई थी। आगर में सौर योजना परियोजना के तहत दो यूनिट लगेगी। शाजापुर सौर पार्क में तीन यूनिट लगेगी। यहां से प्रदेश को 2.14 रुपये प्रति यूनिट बिजली मिलेगी। इन परियोजनाओं से प्रदेश में करीब पांच हजार करोड़ रुपये का निवेश होगा। साथ ही 7 हजार के करीब लोगों को इससे रोजगार मिलेगा।

सौर परियोजनाओं में निवेश करने वाले युवा निवेशकों से सीएम शिवराज सिंह चौहान ने मुलाकात की है। उन्होंने कहा कि एमपी ऐसा राज्य है, जहां कोई आता है, वह पानी में शक्कर की भांति मिलकर एकमेव हो जाता है। इस क्षेत्र में निवेश करने से हम बिजली की कमी को तो पूरा कर ही रहे हैं, साथ ही पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी कदम बढ़ा रहे हैं। हमने जमीन पर तो सोलर प्लांट लगा रही रहे हैं, साथ ही ओंकारेश्वर बांध में प्लोटिंग सोलर पावर प्लांट भी लगा रहे हैं।

सीएम ने युवा निवेशकों से कहा कि हमारी नीति इन्वेस्टर फ्रेंडली है। हम इन्वेस्टर को केवल धन कमाने वाला नहीं, मित्र भी मानते हैं। मैं सभी इन्वेस्टर्स का स्वागत करता हूं और आश्वस्त करता हूं कि यहां आपको कोई कमी नहीं आने दी जाएगी। शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि आप युवा निवेशकों को देखकर मुझे बहुत खुशी हुई है। आप सभी निवेशक मेरे मित्र हैं। मैं आपका सौर उर्जा के क्षेत्र में निवेश के लिए तो स्वागत करता ही हूं और अन्य क्षेत्रों में भी निवेश के लिए आमंत्रित कर रहा हूं।

Source: NavBharat Times